5.72 करोड़ भारतीय सीरियस फंगल डिजीज से पीड़ित, जानिये किन अंगों को प्रभावित करती हैं ये बीमारी…

serious fungal disease आज कल हमार देश में फंगल डिजीज के मरीज बढ़ते जा रहे है। फंगल डिजीज लोगों में बढ़ी तेज से फैलता है ये फंगल डिजीज आपके शरीर के किसी भी अंग में हो सकता है। क्या आपको पता है कि हर 100 में से कम से कम 4 भारतीय ऐसे हैं, जो किसी न किसी गंभीर फंगल बीमारी से जूझ रहे हैं.

स्टडी बताती है कि भारत में साढ़े पांच करोड़ से ज्यादा लोग सीरियस फंगल डिजीज से प्रभावित हैं. इसका मतलब हुआ कि भारत की 4.4 फीसदी से ज्यादा आबादी सीरियस फंगल डिजीज से जूझ रही है.जानकारों का मानना है कि भारत में फंगल डिजीज आम है,

स्टडी में ये बात आई सामने?

दिल्ली एम्स, पश्चिम बंगाल के कल्याणी में स्थित एम्स और चंडीगढ़ स्थित PGIMER के अलावा ब्रिटेन की मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स ने ये स्टडी की है. स्टडी के दौरान ये बात सामने आई है कि, 5.72 करोड़ से ज्यादा भारतीय सीरियस फंगल डिजीस से पीड़ित हैं, जो भारत की कुल आबादी का 4.4 फीसदी है.

टीबी से 30 लाख भारतीय प्रभावित

इस स्टडी को लिखने एम्स दिल्ली से जुड़े रिसर्चर अनिमेश रे ने बताया कि भारत में फंगल डिजीस बड़ी समस्या है, लेकिन इसे कभी माना नहीं गया. उन्होंने कहा कि टीबी से हर साल करीब 30 लाख भारतीय प्रभावित होते हैं, लेकिन फंगल डिजीज से प्रभावित होने वाले भारतीयों की संख्या इससे कई गुना ज्यादा है.

किन अंगों में होता है फंगल डिजीज?

  • वेजाइनल या योनी में होने वाले छालों से लगभग 2.4 करोड़ महिलाएं प्रभावित हैं. इसे यीस्ट इन्फेक्शन कहा जाता है.
  • बालों में होने वाले फंगल इन्फेक्शन, जिसे टिनिया कैपिटीस कहा जाता है, इससे स्कूली बच्चे बड़ी संख्या में प्रभावित हैं. इस इन्फेक्शन में सिर की त्वचार पर दर्द होता है और तेजी से बाल झड़ते हैं.
  • रिसर्चर्स ने पाया कि मौतों के लिए लंग्स और साइनस में होने वाला मोल्ड इन्फेक्शन है. इससे ढाई लाख से ज्यादा भारतीय जूझ रहे हैं.
  •  इनके अलावा 17.38 लाख से ज्यादा लोग क्रोनिक एस्परगिलोसिस नाम के इन्फेक्शन से संक्रमित हैं, जो रेस्पिरेटरी सिस्टम को प्रभावित करता है. जबकि, लगभग 35 लाख भारतीय सीरियस एलर्जिक लंग मोल्ड डिजीज से पीड़ित हैं.
  • ये भी सामने आया कि 10 लाख से ज्यादा लोग ऐसे हैं जो फंगल आई डिजीज से पीड़ित हैं. इसकी वजह से अंधापन हो सकता है.
  • इनके अलावा दो लाख लोग म्यूकरमायकोसिस से भी पीड़ित हैं, जिसे ‘ब्लैक मोल्ड’ कहते हैं.

Read More- Omicron Symptoms ‘Cold-Like’: What Does UK Study Say on COVID Variant?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *