रायपुर मोतियाबिंद फ्री : जाँच के लिए समिति गठित

रायपुर। मोतियाबिंद फ्री होने की दावेदारी करने वाले रायपुर जिले के दावों की जानकारी के लिए प्रदेश स्तरीय टीम का गठन किया गया है। जांच की रिपोर्ट तैयार होगी जिसे केंद्र सरकार को भेजा जाएगा।  रायपुर जिले को मोतियाबिंद फ्री का दावा किया जाता है।  जिसके लिए अब जांच टीम गठित की गई है । जांच के बाद रिपोर्ट केंद्र को भेजी जाएगी । बताया जाता है कि मोतियाबिंद शिकायत पंजीकृत 20 हजार से ज्यादा लोगो की इलाज किया जा चुका है ।

बता दें कि स्टेट के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत दोनों आंखों से प्रभावित सभी पंजीकृत मरीजों की सर्जरी होने का दावा किया था । इसके लिए बड़ी संख्या में एक आंख से शिकायत वाले मरीजोंऑपरेशन भी किया गया था।

इस आधार पर कबीरधाम के बाद रायपुर जिले को कैटरेक्ट फ्री घोषित करने के लिए राज्य की अंधत्व निवारण टीम के समक्ष दावेदारी की गई थी।

महीनेभर बाद राज्य स्तर पर क्षेत्रीय संचालक के साथ दूसरे जिलों के नेत्र चिकित्सकों की टीम बनाकर सर्जरी से लाभान्वित मरीजों के बारे में जानकारी ली जाएगी।

इस आधार पर तैयार की गई रिपोर्ट को विभाग के माध्यम से केंद्र को भेजा जाएगा और उनके क्रॉस चेक के बाद इसकी घोषणा की जाएगी । जानकारी के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2022-23 में प्रदेश में 1.20 लाख से अधिक लोगों को मोतियाबिंद की समस्या से निजात दिलाने के लिए आपरेशन का लक्ष्य रखा गया था । विभागीय टीम इस टार्गेट के नजदीक पहुंच चुकी है।

प्रदेश में पहला जिला कबीरधाम बनने के बाद रायपुर, बिलासपुर सहित कुछ अन्य जिले भी मोतियाबिंद फ्री में शामिल हो सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *