UP में 24 घंटे में 25 मौतें, आखिर ठंड में क्यों बढ़ जाता है हार्ट अटैक का रिस्क,…

25 deaths in 24 hours in UP नए साल के शुरुआती दौर से ही ठंड अपना प्रकोप जमकर बरशा रही है। उत्तर भारत में शीतलहर की वजह से कड़ाके की ठंड पड़ रही है. ठंड बढ़ने के साथ ही देश के कई इलाकों से हृदय रोगियों और हार्ट अटैक के केस बढ़ने की खबरें आ रही हैं. उत्तर प्रदेश के कानपुर के एक अस्पताल में एक दिन के अंदर 723 दिल के मरीजों को भर्ती कराया गया. इनमें 40 से ज्यादा मरीज हालत गंभीर हालत बताई जा रही है।

वहीं हृदय संस्थान के डॉक्टर्स ने बताया कि बीते दिन 723 में 39 मरीजों का ऑपरेशन करना पड़ा. वहीं, सात लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई. साथ ही हार्ट और ब्रेन अटैक से शहर में एक दिन में 25 लोगों की मौत हुई. इनमें 17 हृदय रोगी तो कार्डियोलॉजी की इमरजेंसी तक भी नहीं पहुंच पाए. उन्हें चक्कर आया, बेहोश हुए और मौत हो गई.

ठंड में ही क्यों होता हैं हार्ट अटैक का रिस्क

ठंड में हर साल हार्ट अटैक के मामलों में बढ़ोतरी होती है. ठंड में अचानक ब्लड प्रेशर बढ़ने से नसों में ब्लड क्लॉटिंग यानी खून का थक्का जमने लगता है. इसी वजह से हार्ट अटैक और ब्रेन अटैक पड़ता है.

इसे इस तरह से समझ सकते हैं कि इस सीजन में ब्लड वेसल्स सिकुड़ने के कारण शरीर में ब्लड फ्लो सही नहीं रह पाता है. इस वजह से दिल पर अधिक दवाब पड़ता है और हार्ट अटैक की स्थिति बनती है. ठंड के मौसम में नसें ज्यादा सिकुड़ती हैं और सख्त बन जाती हैं. इससे नसों को गर्म और एक्टिव करने के लिए ब्लड का फ्लो बढ़ जाता है जिससे ब्लड प्रेशर भी बढ़ जाता है. ब्लड प्रेशर बढ़ने से हार्ट अटैक होने का खतरा भी बढ़ जाता है.

दिल के मरीज रखें ध्यान

सर्दियों के दौरान आमतौर पर हर किसी की फिजिकल एक्टिविटी कम हो जाती है जो गलत है. खासकर दिल के मरीजों को सर्दियों में जरूर एक्टिव रहना चाहिए. अगर आप हर दिन 30 से 40 मिनट वॉक करेंगे तो इससे आपकी हार्ट हेल्थ बेहतर होगी और हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाएगा.

ऐसे बुजुर्ग जो पहले से दिल की बीमारी से जूझ रहे हैं, उन्हें इस मौसम में खासतौर पर अपनी हेल्थ का ध्यान रखना चाहिए. उन्हें अपने कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर पर नजर रखनी चाहिए. साथ ही तनाव मुक्त जीवन जीना चाहिए. इसके अलावा घर पर रहकर थोड़ी-बहुत फिजिकल एक्टिविटी भी करनी चाहिए.

Read More- Omicron Symptoms ‘Cold-Like’: What Does UK Study Say on COVID Variant?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *