राजधानी में वास्तुविदों के दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन का हुआ आगाज, देशभर से विख्यात वास्तुविद हुए शामिल..

रायपुर। राजधानी रायपुर में आज वास्तुविदों के राष्ट्रीय अधिवेशन का आगाज साइंस कालेज दीनदयाल ऑडिटोरियम में हुआ. इस दो दिवसीय अधिवेशन में देश विदेश से कई प्रख्यात वास्तुविद आए हुए हैं.

 

इन वास्तुविद और इंजीनियरों के स्वागत में प्रदेश के लोक कलाकारों ने गेड़ी नृत्य, पंथी नृत्य, राउत नाचा और करमा नृत्यों की प्रस्तुति देकर छत्तीसगढ़ कि लोक कला और सांस्कृतिक कि झलकियां प्रस्तुत की जिसने सभी का मन मोह लिया.

 

 

जानकारी के लिए बता दे कि, राष्ट्रीय अधिवेशन में देश के ऐसे भी वास्तुविद शामिल हैं, जिन्होंने अंबानी, अदानी समेत कई मशहूर फ़िल्मी सितारों के लिए , वेनेटी वैन और ऐतिहासिक भवनों का डिज़ाइन किया हैं. इस दो दिवसीय वास्तुविदों के राष्ट्रीय अधिवेशन में देशभर से 500 वास्तुविद एवं छत्तीसगढ़ से 650 वास्तुविद, सिविल इंजीनियर एवं इंटीरियर डिज़ाइनर सम्मिलित होंगे.

 

 

दो दिवसीय कार्यक्रम पूरा शेड्यूल –

 

आर्किटेक्ट सिद्धांत शर्मा ने कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि आज नीदरलैंड से वास्तुविद अलास्का एवं मुंबई के वास्तुविद अनिकेत भागवत का प्रेजेंटेशन तकनीकी सत्र में होगा.

 

दूसरे तकनीकी सत्र में अहमदाबाद के वास्तुविद गुरजीत सिंह मथारू, पुणे के वास्तुविद प्रसन्न मोरे एवं त्रिवेंद्रम के वास्तुविद विनु डेनियल व्याख्यान के साथ प्रेजेंटेशन देंगे.

 

दूसरे दिन 7 जनवरी को प्रथम सत्र में जाने माने वास्तुविद मुंबई के समीप परोड़ा, दिल्ली के मनीष गुलाटी, बैंगलुरु के इंजीनियर मंजुनाथ अपने विचार रखेंगे.

 

दूसरे सत्र में कोलकाता के अबिन चौधरी एवं मुंबई की वृंदा सौम्या का व्याख्यान होगा। अधिवेशन में एनआईटी, एमिटी, आईटीएम और छत्तीसगढ़ के विभिन्न महाविद्यालयों के स्टूडेंट्स हिस्सा लेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *