28.2 C
Chhattisgarh
Sunday, September 25, 2022

मुंबई को मात देकर मध्यप्रदेश ने पहली बार रणजी ट्राफी पर किया कब्जा…

- Advertisement -spot_imgspot_img

SPORTS: भारत के सबसे बड़े घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी को नया चैंपियन मिल गया है। बेंगलुरु में खेले गए फाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश ने पहली बार 41 बार की चैंपियन मुंबई को छह विकेट से हराकर खिताब अपने नाम किया. यह मैच बैंगलोर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में हो रहा था।

Ranji Trophy Final : Madhya Pradesh vs Mumbai मध्यप्रदेश को पहला रणजी खिताब जीतने के लिए चाहिए और कितने रन ….. ?

मुंबई के कप्तान पृथ्वी शॉ ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। मध्य प्रदेश की टीम 88 साल में दूसरी बार Ranji Trophy के फाइनल में पहुंची थी। 23 साल पहले मध्य प्रदेश की टीम को कर्नाटक के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

पिछले कुछ वर्षों में देश में एक के बाद एक नई ताकतवर टीमें उभर रही हैं। एमपी की खिताबी जीत भी इस बात की गवाही देती है। 2014-15 से अब तक 8 सीजन में 6 अलग-अलग टीमों ने खिताब जीता है।

Ranji Trophy Final: क्या MP की क्रिकेट टीम बनेगी रणजी चैंपियन ?

मैच के आखिरी दिन मुंबई की दूसरी पारी 269 रन के स्कोर पर सिमट गई. इस तरह एमपी को जीत के लिए 108 रनों का लक्ष्य मिला, जिसे उन्होंने चार विकेट खोकर हासिल कर लिया। मुंबई ने पहली पारी में 374 रन बनाए। जवाब में मध्य प्रदेश ने 536 रन बनाते हुए 162 रन की बढ़त ले ली।

मुंबई की पहली पारी के 374 रन के जवाब में मध्यप्रदेश ने 536 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया। यश दुबे और शुभम शर्मा और रजत पाटीदार ने शतकीय पारियां खेलीं। दूसरे विकेट के लिए शुभम शर्मा और यश दुबे ने 222 रन की साझेदारी कर मध्यप्रदेश को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया शुभम शर्मा 116 रन बनाकर आउट हुए। यश दुबे ने 133 और रजत पाटीदार ने 122 रन की पारी खेली।

Read More- Omicron Symptoms ‘Cold-Like’: What Does UK Study Say on COVID Variant?

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here