लोहारडीह का बांध बना किसानों के लिए खतरा, इसके फूटने से 550 एकड़ की फसल हो सकती है चौपट

महासमुंद | (Mahasamund News) जिले में इस वर्ष अच्छी बारिश के चलते जिले के छोटे-बड़े लगभग सभी बांध सौ फीसदी भर चुके हैं. इन्ही में से एक है. ग्राम पंचायत लोहारडीह का बांध है. जिसकी क्षमता 0.99 mcm है और इसकी 308 हेक्टेयर की भूमि में सिंचाई होती है, जो की 100 फीसदी भर चुका है.

लोहारडीह के बांध में पिछले एक हफ्ते से गेट वाले प्लेटफार्म के पास से पानी का रिसाव हो रहा है. जिससे किसानों की चिंता बढ़ गयी है. ये बांध फूट जाता है तो 350 किसानों का 550 एकड़ की फसल चौपट हो जायेगी. इसी को लेकर किसान वहा मजदूरी कर बांध के रिसाव को रोकने में लगे है, मगर सिंचाई विभाग के पास इतना फंड नहीं है कि उन ग्रामीणों को मजदूरी दे सके.

(Mahasamund News)  विडम्बना है कि सिंचाई विभाग चार महीने पहले ही इस बांध के जीर्णोद्धार के लिए 1 करोड़ 30 लाख रुपये खर्च किये हैं. उसके बावजूद पानी का रिसाव होने से ग्रामीण सिंचाई विभाग के उपर गुणवत्ताहीन कार्य कराने का आरोप लगा रहे हैं. बांध फूट जाने पर पूरी फसल बर्बाद हो जाने की बात कह रहे है, वही सिचांई विभाग के एसडीओ अपना ही राग अलाप रहे है.

read more- Omicron Symptoms ‘Cold-Like’: What Does UK Study Say on COVID Variant?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *