28.2 C
Chhattisgarh
Sunday, September 25, 2022

केदारनाथ मंदिर में लग रहे सोने की परत को ले कर अब हो रहे विरोध, तीर्थ पुरोहितों ने कहा पौराणिक परंपराओं के साथ हो रहाँ खिलवाड़ ।

- Advertisement -spot_imgspot_img

 

 

मुंबई के एक व्यवसायी केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह को नया रूप देंगे, अब केदारनाथ मंदिर पर सोने की परत चढ़ाई जाएगी । वर्तमान में प्रसिद्ध चार धाम मंदिर में से एक का गर्भगृह 230 किलोग्राम चांदी से ढका हुआ है। इस सप्ताह की शुरुआत में मंदिर के अंदर का काम दीपावली से पहले पूरा हो जाएगा, अध्यक्ष ने कहा कि व्यवसायी द्वारा किया गया सोने का दान एक ‘गुप्त दान’ (गुप्त दान) है। सोना चढ़ाना दीवारों, खंभों और देवता के ऊपर शेड (छत्र) पर किया जाएगा। अजेंद्र अजय, अध्यक्ष श्री बद्रीनाथ – केदारनाथ मंदिर समिति ने बताया कि मंदिर में चांदी की परत 2017 में की गई थी। और अब जिस फर्म ने काशी विश्वनाथ और दक्षिण भारत के कई मंदिरों के गर्भगृहों की सोने की परत चढ़ाने का काम किया है, उसे ही केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह के अंदर चांदी को बदलने का काम दिया गया है।

 

पर जैसे ही मंदिर के भीतर सोने की परते लगाये जाने की भनक केदारनाथ धाम के तीर्थ पुरोहितों को लगी तो उन्होंने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है इस सोने की परत लगाने के लिये मंदिर के भीतर ड्रिल मशीन से भी छेद किये जा रहे हैं। मंदिर की दीवारों पर छेद होने से तीर्थ पुरोहितों में उबाल आ गया है. केदारनाथ धाम के तीर्थ पुरोहित संतोष त्रिवेदी ने कहा कि मंदिर के भीतर किसी भी हाल में सोने की परत नहीं लगाने दी जायेगी। उन्होंने कहा सोने की परत लगाने जाने से मंदिर की पौराणिक परंपराओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. यदि जबरन सोने की परत लगाये जाने की कोशिश की जाती है तो इसका घोर विरोध किया जायेगा. जरूरत पड़ी तो तीर्थ पुरोहित विरोध में भूख हड़ताल करने के लिये बाध्य हो जाएंगे।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here