10 Crore’s Indian Snake : भारत का ये सांप, मर्सिडीज.. फरारी का बाप

10 Crore's Indian Snake : भारत का ये सांप, मर्सिडीज.. फरारी का बाप

10 Crore's Indian Snake : भारत का ये सांप, मर्सिडीज.. फरारी का बाप

 

जनधारा 24 न्यूज डेस्क। 10 Crore’s Indian Snake : 

भारत में पाया जाने वाला ये सांप, मर्सिडीज- फरारी का बाप है।

इसका दाम सुनकर खोपड़ी सुन्न हो जाएगी।

क्या आपने कभी 10 करोड़ का सांप देखा है ?

अचानक कहां देखा गया ये सांप ?

किसने किया सांप का रेस्क्यू ?

क्यों है इस सांप की इतनी ज्यादा कीमत ?

सब कुछ आपको बताएंगे, बस आप बने रहिए जनधारा 24 के साथ-

 

10 Crore’s Indian Snake : भारत का ये सांप मर्सिडी- फरारी का बाप

10 Crore's Indian Snake : भारत का ये सांप, मर्सिडीज.. फरारी का बाप
10 Crore’s Indian Snake : भारत का ये सांप, मर्सिडीज.. फरारी का बाप

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा गांव में

एक किसान के घर में एक अत्यंत दुर्लभ प्रजाति का सांप घुस आया।

किसान सिध्दार्थ सहारे ने तत्काल इसकी सूचना सर्प मित्र को दी।

खबर मिलते ही वन विभाग के अफसर और सर्प मित्र अमित संभारे मौके पर पहुंचे।

काफी देर तक मशक्कत करने के बाद सांप का Rescue सफलतापूर्वक किया गया।

इसके बाद उसको ले जाकर सुरक्षित जंगल में छोड़ दिया गया।

Red Sand Boa है सांप का नाम

सर्प मित्र अमित संभारे ने बताया कि ये Red Sand Boa

एक बेहद दुर्लभ किस्म का सांप है। इस Red Sand Boa की

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत 10 करोड़ बताई जा रही है।

यानि ये भारतीय सांप तो मर्सिडीज- फरारी का भी बाप निकला ?

इसको स्थानीय भाषा में लोग दोमुंहा सांप भी कहते हैं।

इतना अधिक दाम क्यों

दरअसल पड़ोसी देश चीन में सांपों का सूप बनाया जाता है।

इसके अलावा सांपों की खाल से महंगे सामान बनाए जाते हैं।

सांप की हड्डियों का प्रयोग बेशकीमती कामोत्तेजक दवाओं

को बनाने में किया जाता है।

इसके अलावा इसका उपयोग तंत्र-मंत्र के

प्रयोग के लिए भी किया जाता है।

इन्हीं के कारण आज देश में रेड सैंड बोआ

 

क्या है सजा का प्रावधान

Red Sand Boa को दुर्लभ सांपों की श्रेणी में रखा गया है।

इसकी तस्करी करते या फिर खरीद-फरोख्त करते पाए

जाने पर वैधानिक कार्यवाही होती है।

इसमें अदालत में दोषी सिध्द होने के बाद 7 साल की सजा

और 35 हजार रूपए का जुर्माना अथवा

दोनों ही होने का प्रावधान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *