लंपी वायरस : मवेशियों की मौत से जिला प्रशासन अलर्ट, जानें किस गाय में फैलती है बीमारी

बेमेतरा।  बेमेतरा जिले में लंपी वायरस से एक मवेशी की मौत होने के बाद जिला प्रशासन अब  अलर्ट मोज पर नजर आ रही है और सघन टीकाकरण अभियान के प्रति लोगों को जागरूक कर रही है।

बता दें कि बेमेतरा जिले के बेरला ब्लाक के ग्राम कठिया राका में पहली बार लंपी वायरस के संक्रमण पाए गए थे ।  जिसके बाद जिला प्रशासन की ओर से ऐसे  गायों का चिन्हांकित कर उसके ब्लड सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए थे,  जिसमें से 5 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है और वहीं कुछ गायों की मौत लंपी वायरस से होने की पुष्टि होने के बाद जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गई है।

यह भी पढ़ें…

Lumpy Virus : लंपी वायरस का खतरा बढ़ा , 24 घंटे में सैकड़ों पशु चपेट में, अभियान पर जोर…

खासकर  जिला मुख्यालय व आस-पास के गांव में सघन जांच अभियान चलाया जा रहा है।  ताकि मवेशियों को इस वायरस से बचाया जा सके।  वहीं जिले के प्रभारी डॉ. हेमंत सिंह ने बताया कि सबसे ज्यादा लंपी वायरस के शिकार छोटे बच्चे हो रहे हैं इसलिए उन्होंने पशुपालकों से अपील की है कि जैसे उन्हें इस प्रकार के कोई लक्षण नजर आते हैं तो तत्काल पशु चिकित्सालय में संपर्क करें ताकि उसका इलाज जल्द से जल्द शुरू किया जा सके और उसको बचाया जा सके।

क्या है लंपी वायरस

लंपी वायरस एक तरह की स्किन डिजीज जिसे पशु चेचक भी कहते हैं।  एक वायरल बीमारी है जो कैपरी पाक्स वायरस से फैलती है। कैपरी पाक्स वायरस से बकरियों में गोट पाक्स नाम की बीमारी फैलती है और भेड़ों में सीप पाक्स तथा गायों में लंपी स्किन डिजीज नाम की बीमारी फैलती है।

 दूध देने वाली गायों में फैलती है बीमारी

बीमारी गायों की सभी प्रजातियों में होती है। दूध देने वाली गायों की इम्यूनिटी थोड़ी कम होती है, इसलिए सबसे पहले दूध देने वाली गायों में आती है और इसी प्रकार बछड़ों में अधिक नुकसान करती है। यह बीमारी खास कर जर्सी नस्ल में जानलेवा होती है। लेकिन भारतीय प्रजाति की गायों में जिन्हें जेबू कैटल की प्रजाति माना जाता है, इतनी जानलेवा नहीं होती।

लंपी मक्खी-मच्छरों से फैलती है

लंपी वायरस गायों का खून चूसने वाले कीड़ों और मक्खी-मच्छरों से फैलती है। एक गाय को इंजेक्शन की हुई सूई को दूसरी गाय के उपयोग में नहीं लेंना है। वर्षा के दिनों में महामारी का रूप लेती है, क्योंकि हवा में नमी और गर्मी बीमारी को फैलाने वाले बीमारी फैलाने वाले मक्खी मच्छर उत्पन्न होते हैं,जो इस बीमारी को फैलाने में मुख्य भूमिका निभाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *