सीएम बघेल होंगे भारत जोड़ो यात्रा में शामिल, भाजपा के स्टार प्रचारकों की लिस्ट पर दिया ये बयान

रायपुर। (Cm baghel on maharashtra tour) भानुप्रतापपुर में उपचुनाव होने हैं। कल नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन था, जिसमें कांग्रेस की ओर से दिवंगत मनोज मंडावी की पत्नी सावित्री मंडावी ने अपना नामांकन दाखिल किया। वह अपने सहयोगियों के साथ नामांकन दाखिल करने पहुंची। उनके साथ सीएम भूपेश बघेल समेत पीसीसी चीफ मोहन मरकाम मौजूद रहे।

वहीं आज सीएम बघेल महाराष्ट्र दौरे के लिए रवाना हुए हैं। वह महाराष्ट्र में भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने पहुंचेंगे। उन्होंने एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बात करते हुए केंद्र सरकार द्वारा राजीव गांधी हत्याकांड के 6 दोषियों को समय से पहले रिहा करने के आदेश पर पुनर्विचार की याचिका दायर करने पर कहा कि देशभर में जब आलोचना हुई है। तब कदम उठाया गया है। अन्यथा केंद्र सरकार सोई हुई थी। इस मामले में केंद्र सरकार चुप्पी साधी हुई थी। वह अलग-अलग मामलों में प्रोएक्टिव होकर काम करती है लेकिन इस मामले में सभी चुप रहे।

(Cm baghel on maharashtra tour) आरक्षण मामले पर नियुक्ति करने की बात पर सीएम बोले कि आरक्षण के मामले पर जल्द ही हल निकाला जाएगा। इस मामले में 1 और 2 दिसंबर को आरक्षण के लिए विशेष सत्र बुलाया गया है।

भाजपा द्वारा जारी की गई स्टार प्रचारकों की लिस्ट पर बाेले सीएम

आज भाजपा द्वारा भानूप्रतापपुर के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की गई है। इस लिस्ट में 40 प्रचारकों के नाम शामिल है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को प्रचारकों की लिस्ट सौंपी गई है।

बता दें कि, स्टार प्रचारकों की सूची में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, प्रदेश प्रभारी ओम माथुर, सह प्रभारी नितिन नवीन, क्षेत्रीय महामंत्री अजय जामवाल,संगठन से जुड़े कई बड़े नाम भी स्टार प्रचारकों की लिस्ट में शामिल हैं।

इस पर सीएम ने कहा कि सीएम शिवराज सिंह खैरागढ़ उपचुनाव आए थे। रिजल्ट आप सभी के सामने हैं।

सावरकर वाले बयान पर राहुल गांधी पर FIR दर्ज, सीएम ने कहा ये

भारत जोड़ो यात्रा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर सावरकर वाले बयान पर FIR दर्ज कराई गई थी। इस पर सीएम बोले कि राहुल गांधी के ऊपर FIR दर्ज करने का कहा उन्होंने ऐसी कोई बात कही नहीं है। जो तथ्य है उसको दिखाया है। जो चिट्ठी लिखी है उसको बताया है। FIR क्यों किया जा रहा है उसका जवाब देना चाहिए। आजादी की लड़ाई में बहुत सारे जेल गए। (Cm baghel on maharashtra tour) बाल गंगाधर तिलक और भगतसिंह सभी जेल में रहे कभी माफी नहीं मांगी। सावरकर के बारे में अगर जानना है तो आपको उनके जेल जाने से पहले और जेल से छूटने के बाद के बारे में जानना जरूरी है। जेल जाने से पहले सावरकर क्रांति थे। जेल से छूटने के बाद लगातार सावरकर माफी मांगते रहे। सावरकर को अंग्रेजों के द्वारा पैसे दिए जाते थे। जेल से छूटने के बाद सावरकर अपनी छवि के विपरीत काम करने लगे। सावरकर ने अंग्रेजों से मिलकर काम किया।

Read More- Omicron Symptoms ‘Cold-Like’: What Does UK Study Say on COVID Variant?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *