एसडीएम की अनोखी पहल: घर घर जाकर पटवारी, सुन रहे लोगों की समस्या….

धमतरी: तहसील व एसडीएम कार्यालय से जुड़े समस्याओं को दूर कराने के लिए लोगों को प्रशासनिक अफसरों के दरवाजे खटखटाने पड़ रहे थे। लेकिन अब धमतरी ब्लॉक के एसडीएम डॉ. विभोर अग्रवाल ने इस समस्या को समझते हुए इसे दूर करने के लिए पटवारियों को घर-घर भेज रहे है…. जहाँ घर-घर अभियान के तहत राजस्व केस का निराकरण किया जा रहा है।

Amrapali leaving Nirhua and going to marry Chintu : निरहुआ को छोड़कर क्यों चिंटू से विवाह करने जा रहीं आम्रपाली …जानें

दरअसल धमतरी जिला प्रशासन अभियान चला रही है…जिसके तहत इन दिनो पटवारी अपने-अपने हल्कों के सभी ग्राम में निवासरत खाताधारकों से व्यक्तिगत सम्पर्क कर रहे हैं…. इस दौरान खाताधारकों के मौत होने की जानकारी मिलने पर उनके परिवालो की सूची बनाकर भुइंया पोर्टल में अपलोड किया जा रहा है…

बता दें कि 1 नवंबर से शुरू हुए इस अभियान के तहत धमतरी अनुभाग के आमदी, भोथली, छाती, बठेना, धमतरी, कोलियारी और रूद्री में अब तक कुल 70 हजार 643 खाताधारकों में से करीब 7 हजार खाताधारकों से संपर्क किया गया…. इसमें 736 जाति प्रमाण पत्र, 167 फौती नामांतरण, 3 आरबीसी 6-4 और 71 अन्य प्रकरण मिले।

FIFA World Cup-2022 : फीफा के लिए तैयार क़तर, 60 किमी के दायरे में हैं आठ स्टेडियम

गौरतलब है कि सभी पटवारियों को घर-घर फौती प्रकरण दर्ज करने के साथ ही आरबीसी 6-4, मोटरयान दुर्घटना की आर्थिक सहायता के लिए जानकारी लेते हुए आवश्यक दस्तावेज तैयार करने के निर्देश दिए हैं… इस दौरान पटवारी आवेदकों को जाति प्रमाण पत्र जारी करने के लिए भी आवश्यक दस्तावेज तहसीलदार/नायब तहसीलदार को उपलब्ध करा रहे हैं….वही प्रशासन के इस पहल से अब आम लोगो को जमीन से जुडी और अन्य समस्याओ के लिए भटकना नही पडेगा….लोगो की माने तो ये पहली बार है कि पटवारियों व्दारा उनकी समस्याओ को जानने के लिए उनके घर तक पहुंच रहे है।

दोहा-कतर के फीफा में गूंजेगी 12 साल की जानकी की आवाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *