नियमितीकरण की मांग को लेकर अनियमित कर्मचारी निकालेंगे पदयात्रा

रायपुर। Irregular employees padyatra छत्तीसगढ़ के 45 हजार संविदा कर्मचारी नियमित करने की मांग को लेकर आर या पार की लड़ाई लड़ने की तैयारी में हैं। सर्व विभागीय संविदा कर्मचारी महासंघ के आव्हान पर प्रदेशभर के हजारों संविदा कर्मचारी आज माता कौशिल्या मंदिर चंदखुरी से नियमितीकरण की मनोकामना पदयात्रा निकालकर 25 किलोमीटर पैदल चलकर 20 तारीख को राजधानी रायपुर में मुख्यमंत्री निवास पहुंचेंगे। यहां वे मुख्यमंत्री को प्रदेश के विभिन्न देवलयों से लाए गए मनोकामना श्रीफल सौंपेंगे।

दरअसल, प्रदेशभर के विभिन्न विभागों में कार्य करने वाले संविदा कर्मचारी नियमितीकरण नहीं होने से नाराज हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में संविदा कर्मचारियों से सरकार बनने पर 10 दिन के भीतर नियमित करने का वादा किया, पर वादा आज तक पूरा नहीं हुआ। इसी मुद्दे को लेकर सर्व विभागीय संविदा कर्मचारी महासंघ के आव्हान पर प्रदेश में मनोकामना पूर्ति पदयात्रा निकाली जाएगी। महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष कौशलेन्द्र तिवारी ने राजधानी रायपुर में संविदा कर्मचारियों की बैठक ली। इसमें कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सिन्हा, सचिव श्रीकांत लाश्कर, टीकमचंद कौशिक, अशोक कुरें, संजय सोनी, प्रांतीय पदाधिकारी तारकेश्वर साहू, परमेश्वर कौशिक, टेकलाल पाटले उपस्थित रहे।

नियमितीकरण की मांग को लेकर बीते दिनों भी कर्मचारियों ने आंदोलन किया था, लेकिन अभी तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो पाई है। वहीं, विपक्ष ने कर्मचारियों का साथ देते हुए सरकार से नियमितीकरण किए जाने की बात कही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *