कोचिंग गई छात्रा की हत्या, कार में मिली सड़ी लाश

 

बिलासपुर।  छत्तीसगढ़ के बिलासपुर शहर में पीएससी की कोचिंग करने आई एक 24 वर्षीय युवती की लाश कार के भीतर मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। घटना कस्तूरबा नगर सिविल लाइन थाना क्षेत्र की है।  जहां एक युवती की लाश सड़ी गली हालत में मिली है ।  वहीं इस  मामले में पुलिस ने संदिग्ध आरोपी को गिरफ्तार किया है, पुलिस को कार में लाश को ठिकाने लगाने का  सीसीटीवी वीडियो भी मिला है।

बता दें कि  सिटी कोतवाली थाने में युवती के लापता होने की रिपोर्ट 16 नवम्बर को दर्ज की गई थी, लेकिन युवती का पता  3 दिन बाद  लाश के रूप में हुई और लाश पार्किंग लॉट से बरामद की गई है। इस  घटना ने न्यायाधानी बिलासपुर शहर को हिलाकर रख दिया है और  कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें…

बिलासपुर विधायक का अलग अंदाज, छुरी में धार लगाते वीडियो हुआ वायरल

मिली जानकारी के अनुसार मृतक युवती की पहचान भिलाई -दुर्ग की रहने वाली प्रियंका सिंह के रूप में हुई है।  प्रियंका मन्नू चौक दयालबंद स्थित हॉस्टल में रहकर प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रही थी।

गुमशुदगी का मामला  दर्ज

सूत्रों की माने तो पैसे के लेन-देन को लेकर प्रियंका का किसी आशीष के साथ विवाद था और इसी दौरान प्रियंका पिछले 4 दिनों से गायब थी परेशान होकर घर वालों ने इसकी सूचना कोतवाली थाना बिलासपुर को दी थी, जहां गुमशुदगी का मामला दर्ज किया गया था।

गुमशुदगी का मामला दर्ज होने के बाद पुलिस जांच और छानबीन शुरू कर दी लेकिन 3 दिन बाद  पुलिस को कस्तूरबा नगर में कार में लाश होने की सूचना मिली।

यह भी पढ़ें…

रायपुर-बिलासपुर मार्ग पर दर्दनाक सड़क हादसा, तेज रफ्तार कार ने खड़े ट्रक काे मारी टक्कर

 

फॉरेंसिक की टीम प्रशिक्षण के लिए पहुंची

पुलिस घटनास्थल पर फॉरेंसिक की टीम डेड बॉडी के परीक्षण के लिए पहुंची ।  फॉरेंसिक टीम की तरफ से जांच कर रहे प्रतीक सोनी फॉरेंसिक वैज्ञानिक ने बताया शरीर पूरी तरह से डीकंपोज होने लगा था, जिसकी वजह से इससे बदबू और सड़न होने लगी थी ।

वहीं  प्रारंभिक जांच कर शव को पीएम के लिए भेज दिया गया है। हत्या किस तरह की स्थिति में और कैसे हुई है फिलहाल इसका अंदाजा लगाया जा रहा है।

पुलिस वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर सीसीटीवी फुटेज और कॉल डिटेल वह लोकेशन की जांच की जा रही है, एक वीडियो में संदिग्ध आरोपी युवती की लाश आरोपी कार में रख रहा है। पुलिस की माने तो प्रियंका को आखरी बार सिटी फार्मेसी मेडिकल एजेंसी की तरफ जाते हुए देखा गया था, जो मेडिकल स्टोर संचालक आशीष साहू पर शक था उससे पूछताछ जारी है।

यह भी पढ़ें…

रायपुर- बिलासपुर नेशनल हाईवे पर तेज रफ्तार कार ने बाइक काे मारी टक्कर, एक की मौत… एक घायल

अभी हत्या के कारणों का खुलासा नही

पुलिस ने अभी हत्या के कारणों का खुलासा नही किया है, लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बहुत संभव है कि आरोपी आशीष साहू ने निवेश के लिए पैसे का लेन-देन और आपसी प्रेम संबंध में विवाद के चलते प्रियंका सिंह की गला दबाकर हत्या कर दी।

इसके बाद लाश को ठिकाने लगाने में नाकाम होकर 3 दिनों तक यहां वहां फिरता रहा।

कार में पिछली सीट पर डेड बॉडी को पॉलीथिन से इस तरह से कवर किया गया था कि किसी को उस पर शक ना हो।

3 दिनों यहां वहां घूमने के बाद आखिरकार आरोपी ने उससे कस्तूरबा नगर अपने निवास स्थान के करीब ही पार्किंग लॉट पर गाड़ी को छोड़कर भागने की फिराक में था। इससे पहले ही पुलिस ने उस तक पहुंच सुनिश्चित कर ली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *