महिला सुरक्षा को लेकर भाजपा का आरोप, कहा-कांग्रेस राज में हिंदू महिलाएं सुरक्षित नहीं…

 

रायपुर।  भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष  लक्ष्मी वर्मा, रायपुर नगर निगम नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे, भाजपा नेत्री विश्वदिनी पांडेय ने संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसा हमेशा से होता है कि जहां जहां कांग्रेस की सरकार होती है, वहां खासकर हिंदू महिलाओं के साथ षड्यंत्र के तहत उत्पीड़न और शोषण बढ़ जाता है।

ऐसे कई मामले हमेशा संज्ञान में आते रहे हैं। छत्तीसगढ़ में भी लगातार ऐसे मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है।

ऐसे विषयों पर कांग्रेस नेता बोलने से बच रहे हैं, या मुंह छुपा रहे हैं यह शर्मनाक है।

अभी भानुप्रतापपुर में उपचुनाव है। जहां कांग्रेस से महिला प्रत्याशी हैं लेकिन महिला की आबरु लूटने वाले को उसी चुनाव का सह प्रभारी बनाया गया है।

यह भी पढ़ें…

Complete analysis of Gujarat elections 2022: भाजपा का भय, कांग्रेस का KHAM वाला दांव, आप के दावे और भी बहुत कुछ

हिंदू युवतियों के साथ बलात्कार

कांग्रेस के महासचिव रुहाब मेनन ने मदद देने के बहाने युवती को बुलाकर उसके साथ बलात्कार किया इससे बड़ा विश्वासघात क्या हो सकता है? आखिर सरकार इस मामले पर मौन क्यों है?

क्या अब कोई महिला कांग्रेस नेता के पास काम लेकर न जाएं?

अप्रैल 2022 की ही घटना है छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले के पंडरिया थाना क्षेत्र में अलीसान खान ने कवर्धा की युवती के साथ बलात्कार किया।

हिंदू युवतियों की हत्या

अक्टूबर 2022 पिछले महीने की ही बात है एक युवती वाहिद नामक व्यक्ति के साथ नया रायपुर जाती है लेकिन वह वापिस जिंदा नहीं पहुंचती वहां से उसकी लाश बरामद होती है।

हिंदू लड़कियों को बेचना

2020 में डोंगरगढ़ की एक युवती ने बदमाशों के चंगुल से बच कर जो खुलासा किया चौकाने वाला था जिसमें महिला और पुरुषों के एक गिरोह की जानकारी सामने आई जिसमें छत्तीसगढ़ की हिंदू महिलाओं को अपहरण कर एक लाख रु बेचा जाता था और इसके मुख्य आरोपी के रूप में सलमान खान, जुनेद खान और साजिदा सय्यद की गिरफ्तारी हुई।

हैवानियत की हद तब हुई जब यह कहानी बताने वाली महिला ने बताया कि मेरे बेटे के गले पर चाकू रखकर मेरे साथ दुष्कर्म किया गया फिर मुझे बेच दिया गया।

2020 में ऐसी घटनाएं होने के बाद 2022 में भी उत्पीड़न का यह षड्यंत्र जारी है सरकार क्यों सो रही है?

उत्पीड़न के बाद हिंदू युवती द्वारा आत्महत्या

पिछली दिनों दल्लीराजहरा की युवती ने आदिल खान नामक व्यक्ति से शादी कर उत्पीड़न के बाद आत्महत्या कर ली।

शादी का झांसा और वर्षो तक हिंदू लड़कियों से बलात्कार

2020 में ही छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में लव जिहाद का एक और मामला सामने आया जिसमें शादी का झांसा देकर निसार अहमद सिद्दीकी नामक व्यक्ति ने एक हिंदू महिला के साथ तीन साल तक बलात्कार किया साथ ही उसके साथ बर्बरता से मारपीट भी की।

आज भी जब हम प्रेस को संबोधित कर रहे हैं तो कवर्धा इस बात को लेकर बंद है क्योंकि वहां हिंदू महिलाओं के साथ विशेष समाज के कुछ लोगों ने सामूहिक रूप से मारपीट की है।

यह भी पढ़ें…

सांसद ज्योत्सना महंत की हुंकार भरी रैली, भाजपा पर किया जमकर पलटवार

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस राज में हिंदू महिलाओं को बेचा जाना, उनके साथ बलात्कार करना, उनकी हत्या करना, उन्हें झांसा देकर फंसाना, हर प्रकार के मामले सामने आ चुके हैं। ये घटनाएं सामान्य नहीं हैं, इसमें निश्चित तौर पर कोई बड़ा षड्यंत्र नजर आता है।

आखिरकार इतने गंभीर मामलों पर कांग्रेस की सरकार और कांग्रेस के नेता क्यों चुप हैं? आज हम महिलाएं कांग्रेस से यह सवाल पूछने आई है कि हिंदू महिलाओं के उत्पीड़न की पराकाष्ठा के बावजूद उन्होंने चुप्पी क्यों साध रखी है? क्या उनकी चुप्पी अपराधियों को उनका संरक्षण है?

ऐसे षड्यंत्र के बारे में तुष्टीकरण के तहत कांग्रेस हमेशा की तरह मौन ही रहना चाहती है अपने ही दल के नेता के द्वारा एक महिला के बलात्कार पर प्रियंका गांधी अब तक क्यों नहीं बोली छत्तीसगढ़ी क्यों नहीं आई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *