World Television Day : भारत में कब और कैसे हुई थी टेलीविजन शुरुआत…

World Television Day- टेलीविजन एक ऐसा मास मीडियम (जन माध्यम) है जहां ऑडियो-विजुअल कॉम्युनिकेशन के जरिए आपको मनोरंजन, शिक्षा, समाचार, राजनीति, गपशप आदि की जानकारी एक जगह बैठे-बैठे मिलती है। अपने अविष्कार के बाद से यह शिक्षा और मनोरंजन के सबसे जरूरी माध्यम में से एक रहा है। हर साल 21 नवंबर को  विश्व टेलीविजन दिवस मनाया जाता है।

एक समय था जब टेलीविजन का दायरा बहुत ही सीमित हुआ करता था। एक इलाके में सिर्फ एक टेलीविजन हुआ करता था और हर कोई वहीं अपना पसंदीदा कार्यक्रम देखता था । महाभारत, रामायण, शांति, हम पांच जैसे कार्यक्रम से शुरू हुई टेलीविजन की यात्रा अब बड़े रियलिटी शो जैसे बिग बॉस, मास्टरशेफ इंडिया, रोडीज, सिंगिंग रियल्टी शो तक आ गया है।

टीवी का इतिहास
टीवी का आविष्कार एक स्कॉटिश इंजीनियर, जॉन लोगी बेयर्ड ने साल 1924 में किया था। इसके बाद साल 1927 में फिलो फा‌र्न्सवर्थ ने दुनिया के पहले वर्किंग टेलीविजन का निर्माण किया था, जिसे 1 सितंबर 1928 को प्रेस के सामने पेश किया गया था। कलर टेलीविजन का आविष्कार भी जॉन लोगी बेयर्ड ने साल 1928 में किया था।

भारत में टीवी का इतिहास
1924 में टीवी के आविष्कार के तीन दशकों के बाद ये भारत में आया था। प्रेस सूचना ब्यूरो के अनुसार, यूनाइटेड नेशनंस एजुकेशनल, साइंटिफिक और कल्चरल ऑर्गनाइजेशन (UNESCO) की सहायता से नई दिल्ली में 15 सितंबर, 1959 को भारत में टेलीविजन की शुरुआत हुई थी. ‘ऑल इंडिया रेडियो’ के अंतर्गत टीवी की शुरुआत हुई थी और आकाशवाणी भवन में टीवी का पहला ऑडिटोरियम बना, जो पाचंवी मंजिल पर था। इसका उद्घाटन राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने किया था।

World Television Day आज वर्ल्ड टेलीविजन है तो चलिए हम आपको कुछ ऐसे टीवी सीरियल्स के बारे में बताते हैं जो बचपन में लोगों को बहुत पसंद थे। शक्तिमान भारतीय टेलीविजन इतिहास का पहला सुपरहीरो था और इसलिए यह बहुत ही खास किरदार था. शक्तिमान नब्बे के दशक के ज्यादातर बच्चों का पसंदीदा शो था।

World Television Day वहीं बात करे शाका लाका बूम बूम शो की मैजिक पेंसिल के सभी बच्चे इसके दीवाने थे और उनको लगता था कि काश हमारे पास ऐसी मैजिक पेंसिल होती है. जिससे हम दुनिया की कोई भी चीज स्केच करके बना ले।

World Television Day आपको सोनपरी की फ्रूटी याद है कि आप भूल गए ? सोनपरी भी लोगों को बहुत पसंद आता था और इसमें  फ्रूटी के अलावा इसमें सोन परी और अल्टू का करेक्टर लोगों को बहुत पसंद आता था। एक्शन ड्रामा सीरीज़ हातिम बच्चों की सबसे पसंदीदा टीवी सीरियलों में से एक है. हातिम का रोल राहिल आजम ने निभाया था. अपनी राजकुमारी को बचाने के लिए हातिम राक्षस राजा की चुनौती स्वीकार करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *