नई दिल्ली में सांस्कृतिक संध्या में छत्तीसगढ़ की छटा बिखेरने पहुंचे लोक कलाकार

रायपुर। नई दिल्ली में छत्तीसगढ़ के कलाकार राज्य की कला संस्कृति की अनुपम छटा बिखेरेंगे। प्रगित मैदान में चल रहे अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में अपनी प्रस्तुति देने के लिए कलाकार नई दिल्ली पहुंच चुके है। ये कलाकार आज शाम छत्तीसगढ़ की कला संस्कृति की प्रस्तुति देंगे। संस्कृति मंत्री  अमरजीत भगत ने छत्तीसगढ़ पवेलियन में पहुंच कर इन कलाकारों का उत्साहवर्धन किया।

गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में अलग-अलग राज्यों को अपनी कला संस्कृति की प्रस्तुति देने का अवसर दिया जा रहा है। इसी कड़ी में 21 नवम्बर की शाम छत्तीसगढ़ के कलाकार छत्तीसगढ़ी संस्कृति पर आधारित गौर नृत्य, परब नृत्य, भोजली नृत्य, गेड़ी नृत्य, सुवा नृत्य, पंथी नृत्य और करमा नृत्य के साथ ही विभिन्न अवसरों पर यहां गाए जाने वाले लोकगीत एवं लोेकनृत्य प्रस्तुत करेंगे।

अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चलाए जा रहे अनेक नवाचारी और फ्लैगशिप योजनाओं और उपलब्धियों की झलक छत्तीसगढ़ पवेलियन में प्रस्तुत की गई है। छत्तीसगढ़ में ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सशक्तिकरण के साथ-साथ छत्तीसगढ़ के उद्योग व्यापार में आई प्रगति को यहां दर्शाया गया है।

बता दें अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में लगाए गए छत्तीसगढ़ पवेलियन देश-विदेश के लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र है। छत्तीसगढ़ पवेलियन में ‘गढ़बो नवा छत्तीसगढ़” की झलक देखने को मिल रही है। यहां छत्तीसगढ़ पर्यटन विभाग ने भी अपना स्टाल लगाया है।

छत्तीसगढ़ पवेलियन में सुदृढ़ ग्रामीण अर्थव्यवस्था और आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ते छत्तीसगढ़ को दिखाने का प्रयास किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *