Google Girl of UP 2022: तीसरी कक्षा की छात्रा और ज्ञान पीएचडी वालों जैसे, जानिए क्या-क्या जानती है रिया

Google Girl of UP 2022:

Google Girl of UP 2022:

 

जनधारा 24 न्यूज डेस्क ।Google Girl of UP 2022:

8 साल की रिया तीसरी कक्षा की छात्रा है।

वह उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले की रहने वाली है।

उसके पास देश-दुनिया की इतनी सारी जानकारियां हैं कि

लोग अब उसे Google Girl of UP 2022: कहने लगे हैं।

उसकी प्रतिभा को देखकर

उत्तर प्रदेश का बेसिक शिक्षा विभाग

उसकी मदद करने के लिए आगे आया है।

 

Who is Google Girl of UP  2022:

 

यूपी के गोंडा कोतवाली देहात के सालपुर बाजार निवासी

रामधन तिवारी की 8 वर्षीय बेटी रिया का ज्ञान

किसी भी मायने में गुगल से कम नहीं है।

 

व्ह दुनिया के महाद्वीपों, महासागरों के नाम,

दुनिया भर के देशों, उनकी राजधानियों और मुद्राओं,

राज्यों और भारत की राजधानियों को

मौखिक रूप से बता सकती है।

उसको भारत के सभी जिले, भारत के

सभी प्रमुख बंदरगाह, प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान,

भारत में बहने वाली प्रमुख नदियाँ, राष्ट्रपति,

उपराष्ट्रपति के नाम बचपन से जबानी याद हैं।

रिया भारत के पड़ोसी देशों और सीमा रेखाओं की

भी पूरी जानकारी रखती हैं।

Read more : Single Girls entry banned in Jama Masjid : जामा मस्जिद में अकेली लड़कियों की एंट्री बैन पर बवाल , जानिए क्या कहते हैं मस्जिद के PRO

रिया को तुर्क वंश, गुलाम और मुगल वंश के

सभी शासकों के नाम भी अच्छी तरह से याद हैं।

वह महेश्वर सूत्र, शिव तांडव और गीता के उन सभी

श्लोकों का सस्वर पाठ भी करती हैं ।

जबकि इसको संस्कृत में सबसे कठिन माना जाता है।

उसे श्लोकों को पढ़ता देख ऐसा लगता है,

जैसे कि उनके सामने कोई किताब रख दी गई हो।

इसलिए अब लोग उन्हें गूगल गर्ल कहने लगे हैं।

उसका ज्ञान देखकर लोगों को ऐसा लग रहा है

जैसे रिया हर विषय में पीएचडी कर चुकी हैं।

 

रिया कब से पढ़ने लगी किताबें

 

प्राथमिक विद्यालय जोतिया बेल्हारी में सहायक शिक्षक के

पद पर तैनात रिया के पिता रामधन तिवारी का कहना है कि

जब वह 2 साल की थी तभी से उसने किताबें पढ़ना शुरू किया था।

वह जो भी किताब देखती थी, उसे पूरा पढ़ने की कोशिश करती थी।

वह अपनी जिज्ञासा से जुड़े सवालों का जवाब भी देती थीं।

स्मरण शक्ति तीव्र होने के कारण उसे एक बार पढ़ लेने

पर विषयवस्तु याद हो जाती है।

 

रिया तिवारी को कबीर, तुलसीदास, सूर्यकांत त्रिपाठी निराला,

सूरदास और प्रधानमंत्री मोदी की जीवनी भी याद है।

तीसरी क्लास में पढ़ने वाली रिया इंटरमीडिएट तक की

किताबें आसानी से पढ़ सकती हैं।

इस साल हुई शिक्षक पात्रता परीक्षा में रिया ने

50 फीसदी से ज्यादा सवालों को आसानी से हल किया।

रिया का टैलेंट देखकर लोग हैरान हैं।

उसको लोग उत्तर प्रदेश की गुगल गर्ल कहते हैं।

मदद करने आगे आया शिक्षा विभाग

गोण्डा के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अखिलेश प्रताप सिंह का कहना है कि

परिषदीय विद्यालय में रिया जैसी प्रतिभा का होना

बेसिक शिक्षा विभाग के लिए गौरव की बात है।

मैं जल्दी ही इस बच्ची से मिलूंगा ।

विभागीय स्तर से जो भी सुविधा उपलब्ध होगी,

उसे जरूर उपलब्ध कराई जाएगी।

जिससे वह आगे बढ़ सके और

अपने परिवार सहित विभाग का नाम रोशन कर सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *