Announcement at Etawah Railway Station : ट्रेन का कर रहे थे इंतजार, अनाउंस हुआ डिंपल यादव जिंदाबाद और फिर

Announcement at Etawah Railway Station

Announcement at Etawah Railway Station

 

जनधारा 24 पाॅलिटिकल डेस्क। Announcement at Etawah Railway Station:

26 नवंबर की रात अचानक उत्तर प्रदेश के इटावा रेलवे स्टेशन पर

ट्रेनों का इंतजार करते यात्रियों को रेलवे की माइक से

डिंपल यादव जिंदाबाद के नारे सुनाई देने लगे।

यात्रीगण कृपया ध्यान दें-

आप सभी डिंपल यादव को वोट दें।

सुनकर यात्री सकते में आ गए।

कुछ लोगों ने इस अनाउंस को अपने मोबाइल में रिकाॅर्ड भी कर लिया।

आखिर क्या है पूरा मामला ?

किसने रेलवे के अनाउंस सेंटर में जमाया कब्जा ?

क्या थी इसके पीछे की साजिश ?

सब कुछ बताएंगे, बस आप बने रहिए जनधारा 24 के साथ-

Announcement at Etawah Railway Station : डिंपल यादव जिंदाबाद

26 नवंबर की रात उत्तर प्रदेश के इटावा रेलवे स्टेशन के

इन्क्वाॅयरी पैनल से डिंपल यादव

जिंदाबाद (Dimple Yadav Jindabad ) के नारे लगे।

इसके साथ ही डिंपल यादव को वोट देने की अपील की गई।

इन नारों और घोषणाओं के बाद इटावा रेलवे स्टेशन

पर मौजूद यात्री हैरान रह गए।

सामने आया कि कुछ लोगों ने यह सब कुछ

पूछताछ पैनल में जबरन घुसकर किया।

इसकी जानकारी प्रशासन को दी गई।

ये पूरा वाकया तब हुआ जब आने वाली

5 दिसंबर को यूपी की मैनपुरी लोकसभा सीट

पर उपचुनाव होना है।

यह सीट समाजवादी पार्टी के संरक्षक

मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई है।

समाजवादी पार्टी ने इस सीट से पार्टी अध्यक्ष

और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की

पत्नी डिंपल यादव को चुनावी मैदान में उतारा है।

क्या कहते हैं इन्क्वाॅयरी पैनल के लोग

इन्क्वाॅयरी पैनल की ओर से करीब 15 से 20 ऐसे नारे लगाए गए।

रिपोर्ट के मुताबिक, उस दौरान स्टेशन पर मौजूद

एक यात्री लाल बाबा ने बताया कि वह ट्रेन की अनाउंसमेंट

सुनने के लिए बैठे थे, तभी अचानक माइक से

डिंपल यादव जिंदाबाद के नारे सुनाई देने लगे।

उन्होंने कहा कि वह किसी पार्टी के समर्थक नहीं हैं,

उनके लिए सब बराबर हैं,

लेकिन जब उन्हें पता चला कि

ये नारे रेलवे इंक्वायरी से लगाए गए हैं

तो उन्होंने इसका विरोध किया।

लाल बाबा ने आगे कहा कि सरकारी मशीनों का

इस तरह इस्तेमाल करना ठीक नहीं है।

 

रेल प्रशासन में की शिकायत

इधर, स्टेशन की पार्किंग में तैनात कर्मचारी मोहित चतुर्वेदी ने

बताया कि रात करीब 11 बजे जब इस तरह की नारेबाजी की गई

तो वह इन्क्वाॅयरी टीम के पास पहुंचे।

उन्होंने देखा कि वहां से डिंपल यादव जिंदाबाद के नारे लग रहे थे

और काफी लोग वहां जमा थे।

मोहित चतुर्वेदी ने बताया कि नारे सुनकर लोग हैरान रह गए।

जबरन छीना गया माइक: अनाउंसमेंट कर्मचारी

इधर इटावा रेलवे स्टेशन पर अनाउंसमेंट कर्मचारी मुकेश कुमार ने बताया कि

रात में मौजूद जांच टीम से इसकी जानकारी ली गई है।

उन्होंने बताया कि रात में कुछ लोग जबरन घुस आए थे

और फिर उन्होंने माइक छीन लिया और

डिंपल यादव जिंदाबाद के नारे लगाने लगे।

मुकेश कुमार ने आगे कहा कि

इस तरह के नारे लगाने वालों के खिलाफ रेलवे

प्रशासन से शिकायत की गई है।

ऐसे में देखने वाली बात ये होगी कि रेलवे प्रशासन

ऐसे लोगों पर क्या कार्रवाई करता है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed