भाजपा लाएगी विधानसभा में संशोधन प्रस्ताव – नेता प्रतिपक्ष

रायपुर। special session of the assembly आज विधानसभा के विशेष सत्र का पहला दिन था। पूर्व उपाध्यक्ष मनोज मंडावी को श्रद्धांजलि देने के बाद विधानसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गई है। ऐसे में आज सदन में आरक्षण विधेयक पर किसी प्रकार की चर्चा नहीं हुई। आरक्षण मामले में भाजपा का एक बड़ा बयान सामने आ रहा है। बताया गया कि, भाजपा के इस प्रस्ताव को विपक्ष का भी पूरा समर्थन मिला है।

special session of the assembly बताया जा रहा है कि, इस संशोधन प्रस्ताव में प्रमुख रूप से अनुसूचित जाति का आरक्षण 13 से बढ़ाकर 16 फ़ीसदी करने के साथ ईडब्ल्यूएस का आरक्षण 4 फ़ीसदी से बढ़ाकर 10 फ़ीसदी करने का प्रस्ताव शामिल किया गया है। नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल ने कहा कि, कुछ संशोधन के साथ विधायक को समर्थन दिया जाएगा।

special session of the assembly आगे कहा कि, आरक्षण के इस बिल का कांग्रेस सरकार राजनीतिक फ़ायदा उठाना चाहती है। बसपा विधायक केशवचंद्र ने कहा की आरक्षण पर हमारा कोई विरोध है ही नहीं, हमारा पुरा समर्थन है लेकिन जो भी विधेयक आ रहा है हमने संशोधन दिया है, पूर्व की भाती अनुसूचित जाती को 16 प्रतिशत किया जाए। कल हम सदन में इस पर चर्चा भी करेंगे। सत्ता पक्ष कह रही जनसख्या के आधार पर आरक्षण की व्यवस्था की जाएगी, कोई भी वर्ग नाराज नहीं होगा।

उल्लेखनीय है कि, सीएम भूपेश बघेल की अध्यक्षता में पिछले गुरुवार को हुई कैबिनेट की बैठक में विधानसभा में संशोधित आरक्षण विधेयक प्रस्तुत करने की मंजूरी दी गई थी।  इसके जरिए सरकार अनुसूचित जनजाति (ST) को 32%, अनुसूचित जाति (SC) को 13% और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) को 27% आरक्षण देना तय किया है। वहीं सामान्य वर्ग के गरीबों (EWS) को 4% आरक्षण देने की बात कही जा रही है।  इसके लिए कैबिनेट ने दो विधेयकों में बदलाव के प्रारूप को मंजूरी दी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed