मुखबिरी के आरोप में युवक को दी सज़ा, 11 जनवरी को सुरक्षा बलों ने की थी एयर स्ट्राइक

बीजापुर। बीजापुर की सीमा पर 11 जनवरी को नक्सलियों पर हुई एयर स्ट्राइक के बाद नक्सलियों ने मुखबिरी के शक में बोटेतोंग निवासी ताती हड़मा की हत्या कर दी. गणतंत्र दिवस के ठीक एक दिन पहले माओवादियों के दक्षिण बस्तर डिविजनल कमेटी की सचिव गंगा ने एक प्रेस नोट जारी कर इस हत्या की जिम्मेदारी ली है.

 

जानकारी के मुताबिक, मामला 11 जनवरी को सुकमा और बीजापुर की सीमा पर माओवादी ठिकानों पर हुए हवाई हमले से जुड़ा हुआ हैं, माओवादियों के दक्षिण बस्तर डिविजनल कमेटी की सचिव गंगा के तरफ से जारी प्रेस नोट में उसने लिखा है कि, इस हमले के लिए ताती हड़मा ने पुलिस को सटिक लोकेशन शेयर किया था, माओवादी नेता गंगा का आरोप है कि तीन साल पहले दंतेवाड़ा में 12 में पढ़ रहे ताती हड़मा को डरा, धमका और पैसों का लालच देकर पुलिस ने मुखबिर बनाया था. 11 जनवरी के हमले के तुरंत बाद माओवादियों ने ताती हड़मा को पकड़ रखा था, उसके बाद उसे मौत की सजा दी गयी.

माओवादियों की ओर से जारी प्रेस नोट –

 

 

 

 

 

ये भी पढ़ें…सूने मकान में चोरी करने वाले आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे, लाखों के जेवर बरामद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed