मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिला रावघाट परियोजना से प्रभावित ग्रामीणों की सुनीं गई समस्याएं

मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिला प्रशासन एवं बीएसपी प्रबंधन ने शुरू किया अमल
रायपुर । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप रावघाट परियोजना के प्रभावितों को राहत पहुंचाने एवं उनकी समस्याओं के निदान का सिलसिला शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री के निर्देश के परिपालन में आज नारायणपुर जिला एवं बीएसपी प्रबंधन के अधिकारियों का संयुक्त दल खोडगांव पहुंचा। अधिकारियों की टीम ने यहां नारायणपुर जिले में रावघाट परियोजना अंतर्गत प्रभावित गांवों के ग्रामीणों की एक-एक कर समस्याएं सुनीं।
खोडगांव में रावघाट परियोजना से प्रभावित 10 पंचायत के 22 गांवों के ग्रामीणों पहुंचे थे। ग्रामीणों ने एसडीएम दिनेश कुमार नाग, सीजीएम बीएसपी समीर स्वरूप, एसडीओ फारेस्ट, कार्यपालन अभियंता पीएमजीएसवाय विनय वर्मा, तहसीलदार सुनील सोनपिपरे, केतन भोयर के के समक्ष अपनी समस्याएं रखी। इस मौके पर क्षेत्रीय जनप्रतिनिधिगण भी मौजूद थे। रावघाट परियोजना अंतर्गत प्रभावित गांवों के ग्रामीणों ने अपनी मांग अधिकारियों एवं बीएसपी प्रबंधन के समक्ष रखी, जिसमें प्रमुख रूप से प्रभावित परिवारों के बेरोजगार युवक एवं युवतियों को योग्यतानुसार नौकरी में प्राथमिकता एवं आरक्षण का प्रावधान तथा शिक्षा, चिकित्सा, सडक़, बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं की बेहतर व्यवस्था, पर्यावरण संरक्षण एवं सीएसआर मद से विकास के कार्य प्राथमिकता से कराए जाने की मांग शामिल है। रेल्वे लाईन एवं विद्युत लाइन से प्रभावित किसानों के जमीन का मुआवजा तथा गोद ग्राम पंचायत में पालकी, निबरा, कोहका, कंगाली, मड़पा, वर्चे, सरगीपाल, करलखा, हरायनार, मरदेल, छिदपरस को शामिल करने आवेदन ग्रामीणों ने सौंपा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *