भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल द्वारा नक्सली क्षेत्रों में सिविक एक्शन का आयोजन

नारायणपुर / नारायणपुर जिले के अति संवेदनशील क्षेत्र के ग्राम कुरूशनार में 53वीं भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल द्वारा सिविक एक्शन कार्यक्रम का आयोजन कर ग्रामीणों को जरूरत की सामान बाटने के साथ ही खिलाड़ियों को खेल सामग्री का वितरण किया । इस दौरान चिकित्सा एवं पशु चिकित्सा शिवर भी लगाया गया था जिसका लाभ ग्रामीणों ने उठाया ।
धुर नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल के जवान नक्सल अभियान के साथ-साथ सुदूर अंचल के ग्रामीणों लोगो की मदद के लिए भी सदैव ततपर रहती है । हमारी 53वीं बटालियन आई0टी0बी0पी0 की ‘‘बी‘ कम्पनी के कैम्प कुरूशनाऱ द्वारा सिविक एक्शन प्रोग्राम के तहत ग्रामीणों की जरूरत के सामानों का वितरण किया गया । इस दौरान ग्रामीणों के लिए चिकित्सा शिविर लगाया गया जिसमें ग्रामीणों के स्वस्थ परीक्षण कर दवाईयां वितरित की गई वही पशु चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। सिविक एक्शन कार्यक्रम में कुरूशनाऱ, कोडोली, टूटाखार , जिवलापदर, कंदाडी और ब्रेहबेड़ा आदि गाॅव के ग्रामीणों शामिल हुए ।


इस अवसर पर वाहिनी की चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 वी0 विजया लक्ष्मी बाई, द्वारा दूरदराज इलाके से आये ग्रामीणों की चिकित्सा जाचॅ कर दवाईयाॅ बाटीं और पशु चिकित्सक डा0 एन0 मोहना सुन्दरम द्वारा ग्रामीणों के पालतू जानवरों की चिकित्सा जाचॅ की गई, और दवाईयाॅ बाॅटी गयी। चिकित्सा अधिकारी द्वारा लोगांे को साफ-सफाई, ताजा भोजन करने एवं षुद्ध पेयजल का उपयोग करने की सलाह दी गई तथा वाहिनी पशु चिकित्सक द्वारा ग्रामीणों को पशुओं को होने वाली बीमारी तथा उनसे बचाव के बारे में जानकारी दी गई। इस मौके पर दिनेष सिंह, सहायक सेनानी, 53वीं बटालियन, आई0टी0बी0पी0 एवम् स्थानीय गावों के सरपंच, आंगनवाड़ी की कार्यकर्ता, स्कूलों के अध्यापक भी उपस्थित थे।
कार्यक्रम के अंत में श्री पदम सिंह बग्गा, द्वितीय कमान, 53वीं बटालियन, आई0टी0बी0पी0 ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए बताया वे आई0टी0बी0पी0 को अपना मित्र समझें, हम लोग आप सब की सेवा व सुरक्षा के लिए यंहाॅ तैनात है अगर किसी को भी कोई समस्या होती है तो आप लोग कभी भी कैम्प में आकर हमें बताए। हमारे जवान हमेषा आप लोगांे की सेवा के लिए तैयार है। उक्त अधिकारी ने बताया कि ग्रामीणों के उत्थान में इस प्रकार के कार्यक्रम भविश्य में भी आयोजित किए जाएंगे तथा सभी ग्रामवासियों व खास कर युवा पीढी से अनुरोध किया कि वे हिसंा का मार्ग छोडकर राश्ट्र निर्माण व देष की मुख्यधारा से जुडे व खुषहाल जीवन व्यतीत करें।
पदम सिंह बग्गा, द्वितीय कमान एवं श्री दिनेष सिंह, सहायक सेनानी 53वीं बटालियन, आई0टी0बी0पी0 द्वारा सभी ग्रामीणों को इस कार्यक्रम में षामिल होने व इसे सुचारु रुप से सफल बनाने में सभी का आभार व्यक्त किया व धन्यवाद देते हुए उनके उज्जवल भविश्य की कामना की। इस दौरान जवानों द्वारा दूर-दराज से आए ग्रामीणों के लिए जलपान की भी व्यवस्था की गई, जिसकी की ग्र्रामीणों ने भूरी-भूरी प्रषंसा की !

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *