उत्कर्ष स्माल फाइनेंस बैंक की मास्टरकार्ड के साथ साझेदारी : रेस्टोरेंट में भोजन करने पर भी विशेष लाभ देगा मास्टरकार्ड

नयी दिल्ली। उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड ने आज मास्टरकार्ड के साथ डेबिट कार्ड लॉन्च करने की घोषणा की।
यह कार्ड उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक के ग्राहकों को अंतर्राष्ट्रीय लाभ और सुविधाएँ प्रदान करेगा। साथ ही खरीदारी और रेस्टोरेंट में भोजन करने पर भी विशेष लाभ देगा। यह सहयोग मास्टरकार्ड की तकनीकी विशेषज्ञता और उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक के मजबूत ग्राहक आधार को एक साथ लाएगा।
इस पार्टनरशिप के साथ, कार्डधारकों को मास्टरकार्ड के लाभ जैसे लाउंज एक्सेस, दुनिया भर में स्वीकृति, बीमा कवरेज, कैशबैक ऑफ़र, कंसीयज ऑफ़र और मर्चेंट ऑफ़र भी मिलेंगे। मास्टरकार्ड डिजिटल भुगतान सुरक्षा के क्षेत्र में अग्रणी रहा है और इन कार्डों में धोखाधड़ी की निगरानी के लिए अपनी श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ सुरक्षा के उपाय जैसे कि सुरक्षा नेट आदि दिए जाएंगे।
इस पर बैंक एमडी और सीईओ गोविंद सिंह ने कहा, “इस टाई अप के माध्यम से, यूएसएफबी का डेबिट कार्ड हमारे ग्राहकों के लिए महत्वपूर्ण लाभ लाएगा। ग्राहक अब अपने पसंदीदा गंतव्य पर बिना किसी बंधन के लेन-देन करने में सक्षम होंगे। उन्हें सर्वश्रेष्ठ ऑफर्स और सुरक्षा भी मिलेगी। डेमोग्राफिक्स, सेगमेंट और हमारी ग्राहक प्रोफ़ाइल को ध्यान में रखते हुए सभी की जरूरत के मुताबिक तैयार किए गए समाधान, हमारे ग्राहकों के बैंकिंग और लेन-देन के अनुभव को निश्चित ही बेहतर बनाएंगे। ग्राहकों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता के कारण हम अपने मूल्यवान ग्राहकों की जरूरतों और सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए उनके लिए तत्परतापूर्वक काम करते रहेंगे।”
मास्टरकार्ड के मुख्य परिचालन अधिकारी विकास वर्मा ने इस पार्टनरशिप के बारे में कहा, “मास्टरकार्ड उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक के साथ पार्टनरशिप करने के लिए उत्साहित है, जिसके ग्राहक ज्यादातर टियर 2 और 3 बाजारों के हैं। मास्टरकार्ड प्रौद्योगिकी और विशेषज्ञता के साथ भुगतान करने के लिए सुरक्षित और अधिक सुविधाजनक तरीके विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध है। मास्टरकार्ड छोटे व्यापारियों और उपभोक्ताओं के साथ जुड़ने के लिए उन्हें डिजीटल भुगतान के लाभों के बारे में शिक्षित करने के लिए अथक प्रयास कर रहा है। यह पार्टनरशिप उन्हें टियर 2 और 3 बाजारों में इस संबंध को मजबूत करने का अवसर प्रदान करती है।”
मास्टरकार्ड भारत में डिजिटल भुगतान के लिए लोगों में स्वीकृति पैदा करने की दिशा में सक्रिय रूप से काम कर रहा है। कंपनी व्यापारियों और भुगतान एग्रीगेटरों के लिए भुगतान करने की प्रक्रिया को आसान बनाने का प्रयास कर रही है ताकि उन्हें अपने व्यवसायों को कुशलतापूर्वक विकसित करने में मदद मिल सके। इस पार्टनरशिप के साथ, देश में डिजिटल लेन-देन के लिए स्वीकृति पैदा करने के लिए संयुक्त प्रयासों की उम्मीद की जा सकती है। मास्टरकार्ड का भारत में 1 करोड़ व्यापारियों को डिजिटल भुगतान स्वीकार करने में सक्षम बनाने का लक्ष्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *