गो माता के लिए घर-घर से एकत्रित करेंगे रोटियां

 

रायपुर। भारतीय संस्कृति में हजारों साल से परंपरा चली आ रही थी कि रसोई में सबसे पहले गो माता के लिए रोटी बनाई जाती थी। घर-घर में गो पालन किया जाता था। अब शहरों में बहुमंजिला इमारतें बन जाने से गो पालन करना संभव नहीं है। ग्रामीण इलाकों में अथवा पर्याप्त जगह वाले भवन मालिक ही गो पालन करते हैं। गो माता के प्रति श्रद्धा भाव जगाने और उन्हें हर घर से रोटी खिलाने का अभियान मंगलवार को शुरू किया हैै।

इसके लिए एक गो रथ बनाया गया है, जो विविध मोहल्लों में भ्रमण करेगा। घर-घर से रोटियां एकत्रित करके गो माता को खिलाया जाएगा। शंकर नगर वार्ड 30 में पार्षद सुमन राम प्रजापति के नेतृत्व में प्रथम रोटी गो माता को सेवा शुरू की गई है। पंडित सुशील महाराज ने रथ की पूजा अर्चना की और मातृ शक्ति ने आरती उतार कर गो माता के लिए गुड़-रोटी प्रदान कर रथ को रवाना किया।

गो रोटी रथ के शुभारंभ पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सच्चिदानंद उपासने, छगन लाल मूंदड़ा, संजय श्रीवास्तव, विश्व हिंदू परिषद के घनश्याम चौधरी, ऋषि मिश्रा, ज्ञान चंद चौधरी, अनूप खेलकर, हरदीप सिंह सैनी, सुखबीर सिंघोत्रा, संदीप अग्रवाल, ललित चौरसिया, सुधीर चौबे, सुनील परेतकर, सुनील शर्मा, जय किशन भट्टर, हरीश सिंघानिया, नितिन श्रीवास्तव, महेंद्र धनकर, श्रवण मिश्रा , राम तांडी, राज सोना, विनोद प्रजापति, आशीष असाटी,उपेंद्र जगत, संध्या दुबे ,विद्या बाला, सरिता दुबे, रेखा सोलंकी ,शीला प्रजापति, लक्ष्मी प्रजापति, लीला प्रजापति, अलका प्रजापति, चंदा साहू, मीना सेन, सुषमा साहू आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *