राजधानी में 180 दिन में पेट्रोल डीजल के जितने दाम बढ़े, उसका उसका 50 फीसद 24 दिनों में ही पहुंचा

 

रायपुर। अंतरराष्ट्रीय बाजार के प्रभाव से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बीते 24 दिनों में ही इतनी जबरदस्त तेजी आई है कि यह बीते छह महीनों में आई तेजी का पचास फीसद है। यानि पेट्रोल-डीजल की कीमतें बीते छह महीनों में जितनी महंगी हुई है, उसकी आधी बढ़ोतरी फरवरी के इन 24 दिनों में ही आ गई है।

25 अगस्त से लेकर 24 फरवरी तक देखा जाए तो पेट्रोल 8.88 रुपये प्रति लीटर और डीजल 8.69 रुपये प्रति लीटर बढ़ा है। वहीं एक फरवरी से लेकर 24 फरवरी तक पेट्रोल 4.43 रुपये प्रति लीटर और डीजल 5.17 रुपये प्रति लीटर बढ़ा। राजधानी में अभी पेट्रोल और डीजल के बीच का अंतर 1.31 रुपये प्रति लीटर हो गया है। कारोबारियों का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार को देखते हुए अभी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में और बढ़ोतरी आ सकती है। पेट्रोल-डीजल के साथ ही रसोई गैस की कीमतों में भी इस महीने जबरदस्त तेजी आई है।

तारीख पेट्रोल डीजल

अगस्त 2020 80.51 रुपये प्रति लीटर 79.69 रुपये प्रति लीटर

एक फरवरी 2021 84.96 रुपये प्रति लीटर 82.91 रुपये प्रति लीटर

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का असर आने वाले दिनों में खाद्य सामग्रियों पर और ज्यादा पड़ने वाला है। बताया जा रहा है कि मालभाड़े में बढ़ोतरी होने वाली है। इसका असर ही खाद्य सामग्रियों की कीमतों में पड़ेगा। इसके साथ ही ट्रैवल्स वाहनों का किराया भी और महंगा हो जाएगा। आने वाले कुछ दिनों में ही इसका असर बाजार में देखने को मिलेगा।

जैसे-जैसे पेट्रोल-डीजल की कीमतों का अंतर कम होते जा रहा है। इसका सबसे ज्यादा असर डीजल वाहनों की बिक्री पर पड़ेगा। बताया जा रहा है कि इन दिनों कार कंपनियों द्वारा ज्यादा माइलेज वाली गाड़ियों के साथ ही पेट्रोल वाहनों पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है। कारोबारियों का कहना है कि बीते छह महीने में डीजल वाहनों की बिक्री में कमी आई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *