PM मोदी गाँव,गरीब और किसान के लिए समर्पित : भाजपा के लिये सत्ता नहीं बल्कि देश का विकास सर्वोपरि

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने साफ किया कि उनकी पार्टी का उद्देश्य सत्ता में बैठने का नहीं है बल्कि देश की प्रगति है।

दो दिवसीय दौरे पर यहां आये नड्डा ने यहां इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को संबोधित करते हुये कहा “ भाजपा का उद्देश्य सत्ता में बैठने का नहीं है। हम उन लोगों में से हैं कि हम दो दिन रहें न रहें,विचार रहना चाहिए, देश रहना चाहिए और देश को प्रगति करना चाहिए।”

उन्होने कहा कि एक सर्वे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज तक के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री के रूप में प्रतिष्ठित हुए हैं। दूसरे स्थान पर भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का नाम आया है। सर्वे में कहीं नीचे इंदिरा गाँधी और सबसे अंत में पंडित जवाहरलाल नेहरू का नाम आया है। ध्यान देने वाली बात यह है कि पंडित नेहरू ने 17 साल तक शासन किया। इंदिरा गाँधी 14 वर्ष तक भारत की प्रधानमंत्री रहीं लेकिन अटल जी को टुकड़ों में छह वर्ष का वक्त मिला और मोदी के कालखंड के तो अभी साढ़े छह वर्ष ही अभी पूरे हुए हैं। इसी सर्वे में देश के सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ चुने गए हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि देश की जनता भाजपा और मोदी को लगातार आशीर्वाद क्यों देती है क्योंकि प्रधानमंत्री दिन.रात देश के गाँव,गरीब और किसान के प्रति समर्पित रहते हैं। चुनाव तो बहुत लोग जीतते हैं। सरकारें बहुत बनती है, मंत्री एवं सांसद बहुत से लोग बनते हैं लेकिन जो जनता के साथ जुड़ कर उनके सुख दुःख में काम करते हैं वही देश को आगे लेकर जाते हैं। यह केवल सर्वे नहीं बल्कि चुनाव परिणाम भी बताते हैं।

बिहार से लेकर जम्मू.कश्मीर तक देश की जनता ने विधान सभा चुनाव,उप.चुनावों एवं स्थानीय निकाय के चुनावों में भाजपा एवं श्री मोदी को अपना आशीर्वाद देकर भाजपा का परचम लहराया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति एवं गृह मंत्री अमित शाह की कुशल रणनीति के बल पर धारा 370 धाराशायी हुआ। कांग्रेस ने माहौल को बिगाड़ने की भरपूर कोशिश की, गुपकर ने भी मिल कर चुनाव लड़ा लेकिन जम्मू.कश्मीर में पहली बार हुए डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट काउंसिल के चुनाव में भाजपा न केवल सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी बल्कि सबसे ज्यादा वोट भी भाजपा को ही मिला।

श्री नड्डा ने कहा कि कोरोना से अमेरिका,इटली,ब्रिटेन,फ़्रांस जैसे शक्तिशाली देश और पूरा यूरोप भी जहां अपने आप को असहाय महसूस कर रहे थे लेकिन हमारे पास श्री मोदी जैसे कर्मयोद्धा नेता हैं जिन्होंने दुनिया को रास्ता दिखाया कि कोरोना को परास्त कैसे किया जा सकता है। श्री लाल बहादुर शास्त्री के बाद देश ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चुना और उनके एक आह्वान पर 130 करोड़ भारतीयों ने साथ मिल कर कोरोना के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का बिगुल फूँका।

कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस की तो बात ही निराली थी। पहले तो लॉकडाउन पर सवाल उठाया कि लॉकडाउन क्यों लगाया,फिर जब लॉकडाउन चरणबद्ध तरीके से हटने लगा तो कहने लगे कि हटाया क्यों, मोदी सरकार ने 1.70 लाख करोड़ रुपये की निधि से गरीब कल्याण योजना का सूत्रपात किया। आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत किसानों के लिए एक लाख करोड़ रुपये की निधि आवंटित की गई। वोकल फॉर लोकल अभियान के तहत प्रधानमंत्री ने घरेलू उत्पादों के वर्ल्ड ब्रांडिंग की बात की। उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद की नीति पर चलते हुए इस दिशा में काफी अच्छे तरीके से काम कर रहा है। यह उत्तर प्रदेश की तस्वीर और तकदीर दोनों को बदलने में सहायक होगा। कांग्रेस ने आत्मनिर्भर भारत पर भी सवाल उठाए। उन्होंने तो देश को निर्भर रहने को मजबूर कर दिया,उन्हें क्या पता कि आत्मनिर्भरता क्या होती है।

श्री नड्डा ने कहा कि भाजपा की योगी सरकार ने प्रदेश में निवेश के लिए लगभग साढ़े चार लाख करोड़ रुपये का एमओयू अब तक साइन किया है जिससे लगभग 33 लाख रोजगार सृजित होंगे। कई योजनाओं में लगभग तीन लाख करोड़ रुपये का निवेश हो भी चुका है। एमएसएमई के लगभग 8 लाख लोगों को भी इससे लाभ पहुंचेगा।

उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केंद्र की योजनाओं को समर्पण भाव से जमीन पर उतारने का सफल प्रयास किया है। उत्तर प्रदेश में जहां एक ओर ईस्टर्न डेडीकेटेड कॉरिडोर का निर्माण हो रहा हैए वहीं 7.725 करोड़ रुपए की लागत से नेशनल इंडस्ट्रियल कॉरिडोर का निर्माण हो रहा हैए इससे 2.8 लाख रोजगार सृजित होंगे। 8000 करोड़ रुपए की लागत से आगरा मेट्रो का निर्माण हुआ है। वाराणसी प्रयागराज रेलखंड का विकास हुआ है और विंध्याचल में 5.555 करोड़ रुपए की लागत से ड्रिंकिंग प्रोजेक्ट का शिलान्यास हुआ है। एक तरह से उत्तर प्रदेश में योजनाओं की झड़ी लगी हुई है।

योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति में काफी सकारात्मक बदलाव आया है। अब तो नेताओं को भी समझ में आ गया है कि लॉ एंड ऑर्डर होता क्या है। भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रधानमंत्री मोदी की तरह योगी आदित्यनाथ ने भी उत्तर प्रदेश में जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रखी है। उत्तर प्रदेश पर्यटन के क्षेत्र में भी लगातार आगे बढ़ रहा है। कहीं दीपोत्सव मनाया जा रहा है तो कहीं कुंभ का सफलतापूर्वक आयोजन हो रहा है और इन सभी कार्यक्रमों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सम्मान भी मिल रहा है।

श्री नड्डा ने बुद्धिजीवियों का आह्वान करते हुए कहा कि जिंदा समाज वह होता है जो अच्छे लोगों को शाबाशी दे और गलत लोगों को घर में बैठाने का इंतजाम करे। हम भाजपा कार्यकर्ता के रूप में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में दिन . रात देश के विकास और आमजन की भलाई के लिए कार्य कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *